दुनिया में बौद्ध देश कितने हैं – उनके नाम और सूची

दुनिया के अधिकतर देशों में कोई ना कोई धर्म बहुसंख्यक है, जो उस देश की एक सांस्कृतिक विरासत के तौर पर भी जाना जाता है। दुनिया के करीब 20 देशों एवं गणराज्यों में बौद्ध धर्म बहुसंख्यक हैं और वह उन देशों की ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक विरासत पर तथा राजनीति पर अपनी पकड़ बनाए रखता है। – दुनिया में बौद्ध देश कितने हैं

 हा लेख मराठीत वाचा 

list of Buddhist countries in the world - विश्व में कुल कितने बौद्ध देश हैं

इस लेख में हम जानेंगे कि दुनिया में कितने बौद्ध देश हैं। हम यहां एसे बौद्ध देशों के नाम एवं सूची प्रस्तुत करेंगे, जहां बौद्ध धर्म बहुमत में है। जिस तरह से मानव संस्कृति आगे बढ़ी उसी तरह से धर्मों का भी जन्म हुआ और वह भी आगे बढ़ते रहें। आज दुनिया में 4 सबसे प्रमुख धर्म है – ईसाई धर्म, बौद्ध धर्म, इस्लाम और हिंदू धर्म। यह 4 धर्म सबसे बड़ी आबादी वाले धर्म है। दुनिया के सबसे बड़े धर्म की बात करें तो वह ईसाई धर्म है जिसे मानने वालों की आबादी लगभग 2.2 अरब (220 करोड़) हैं।

विश्व में बौद्ध धर्म की जनसंख्या कितनी है? – एक अनुमान के अनुसार, विश्व में बौद्ध धर्म की जनसंख्या 120 से 180 करोड़ है।

बौद्ध धर्म की आबादी का कोई एक सटीक अनुमान नहीं है। अलग-अलग अनुमानों के अनुसार, आबादी के मामले में बौद्ध धर्म को इस्लाम से भी बड़ा, इस्लाम के बराबर तथा कभी इस्लाम से छोटा धर्म भी बताया जाता है। यानी बौद्ध धर्म दुनिया का दूसरा या तीसरा सबसे बड़ा धर्म हैं। हालांकि अमेरिका के प्यु रिसर्च सेंटर के सर्वे में बौद्ध धर्म को हिंदू धर्म से छोटा और दुनिया का चौथा सबसे बड़ा धर्म बताया गया है, क्योंकि इस सर्वे में चीन, जापान और वियतनाम की बहुत बड़ी बौद्ध आबादी को गिना ही नहीं, बल्की उसे बहुत ही कम बताया!

विश्व में कुल कितने बौद्ध देश हैं – बौद्ध धर्म के अनुयाई दुनिया के 200 से अधिक देशों में पाये जाते हैं। ईसाई और मुस्लिम लोग भी दुनिया के अधिकतर देशों में रहते हैं। वही हिंदू धर्म को मानने वाले भी दुनिया के बहुत देशों में मिल जाएंगे। ईसाई धर्म और इस्लाम को मानने वाले बहुत सारे देशों में बहुसंख्यक है। हालांकि हिंदू धर्म केवल भारत और नेपाल इन दो देशों में ही बहुमत में है। अधिकारिक तौर पर दुनिया में कुछ ऐसे भी राष्ट्र (देश) हैं, जिन्होंने खुद को ईसाई राष्ट्र, मुस्लिम राष्ट्र, या बौद्ध राष्ट्र घोषित किया है। लेकिन आधिकारिक तौर पर फिलहाल किसी को भी हिंदू राष्ट्र घोषित नहीं किया गया है।

 

 

दुनिया में कितने बौद्ध देश हैं?

How many Buddhist countries are there in the world?

पूरी दुनिया में कुल 14 बौद्ध देश हैं, जहां बौद्ध धर्म सबसे प्रभावशाली तथा सबसे बड़ा धर्म हैं। अन्य धर्मों की तुलना में इन 14 देशों में बौद्ध धर्म के अनुयाई सबसे अधिक संख्या में पाए जाते हैं। हमारे भारत के पड़ोसी देश – भूटान, चीन, म्यांमार (बर्मा) और श्रीलंका में बौद्ध धर्म ही सबसे बड़ा धर्म है। बौद्ध बहुमत वाले सभी 14 देश एशिया महाद्वीप में मौजूद है।

इन सभी देशों में बौद्ध लोगों की बहुलता है, महज इसलिए उन्होंने स्वयं को आधिकारिक तौर पर बौद्ध राष्ट्र घोषित किया हुआ है ऐसा नहीं है। हाँ, मगर इन 14 में से केवल 6 ऐसे भी देश हैं जिन्हें हम एक तरह से आधिकारिक बौद्ध राष्ट्र या बुद्धिस्ट कंट्रीज कह सकते हैं। क्योंकि इन देशों के संविधानों में बौद्ध धर्म को ‘राष्ट्र धर्म‘ ( राज धर्म या आधिकारिक धर्म ) का दर्जा दिया या अन्य कुछ विशेष दर्जा दिया है। इन आधिकारिक बुद्धिस्ट कंट्रीज के नाम है – लाओस, कंबोडिया, भूतान, थाईलैंड, म्यांमार (बर्मा) और श्रीलंका।

चाहे अमेरिका जैसी ईसाई आबादी वाली सबसे बड़ी कंट्री हो या इंडोनेशिया जैसे मुस्लिम आबादी वाला सबसे बड़ा देश हो। वहां भी आपको बौद्ध धर्म के अनुयाई मिल जाएंगे, हालांकि यहां उनकी आबादी ज्यादा नहीं है। क्षेत्रफल तथा जनसंख्या के मामले में विश्व का सबसे बड़ा बौद्ध देश चीन है।

चीन में बौद्ध प्रतिशत – एक अनुमान के अनुसार, चीन में लगभग 50 से 80 फ़ीसदी लोग बौद्ध धर्म को फॉलो करते हैं। यानी 140 करोड़ आबादी वाले चीन में बौद्ध आबादी 70 करोड़ से 110 करोड़ हैं। हालांकि, अमेरिका के प्यू रिसर्च सेंटर के सर्वेक्षण में, महज 18 फ़ीसदी चीनी लोगों को बौद्ध अनुयाई बताया है!

दुसरी तरफ, जापानी सरकार की एजन्सी फॉर कल्चरल अफेअर्स के अनुमान के अनुसार, (2018 के अंत तक), लगभग 8.40 लाख या लगभग 67% जापानी आबादी के साथ, बौद्ध धर्म जापान में सबसे अधिक अनुयायियों वाला धर्म हैं, हालांकि प्यू रिसर्च सेंटर का अनुमान है कि (2010 में), जापान में महज 36.2% आबादी ही बौद्ध धर्म का पालन करती हैं।

 

बौद्ध धर्म को मानने वाले कितने देश हैं

बौद्ध धर्म विश्व के किन किन देशों में प्रचलित है?

बौद्ध धर्म के संप्रदाय, एशिया के इन रंगीन जगहों पर बौद्ध धर्म एक प्रमुख धर्म के रूप में है।

विश्व के 14 बौद्ध देशों के नाम एवं सूची

List of Buddhist countries in the world

1. कंबोडिया (98% बौद्ध)

2. लाओस (67 – 98% बौद्ध)

3. मंगोलिया (93% बौद्ध)

4. जापान (84 – 96% बौद्ध)

5. थाईलैंड (95% बौद्ध)

6. भूटान (75 – 94% बौद्ध)

7. ताइवान (93% बौद्ध)

8. चीन (50 – 80% बौद्ध)

9. म्यांमार (90% बौद्ध)

10. वियतनाम (75 – 85% बौद्ध)

11. श्रीलंका (70.2% बौद्ध)

12. उत्तर कोरिया (50 – 74% बौद्ध)

13. दक्षिण कोरिया (38 – 50% बौद्ध)

14. सिंगापुर (51 – 67% बौद्ध)

एक अनुमान के अनुसार, इन सभी 14 देशों में बौद्धों की आबादी 50% से अधिक है, इसलिए इन देशों को बौद्ध देशों की श्रेणी में रखा गया है। अगर हम रूस के (बौद्ध बहुसंख्यक) तीन गणराज्य एवं ऑस्ट्रेलिया का एक द्वीप को मिलाकर देखेंगे; तब दुनिया में 18 बौद्ध देश एवं गणराज्य होंगे जहां बौद्ध धर्म बहुसंख्यक या बहुमत में है।

यदि इसमें चीन के तीन स्वायत्त प्रांतों को भी जोड़ दे, तो विश्व में 21 बौद्ध देश, गणराज्य, एवं स्वायत्त प्रांत होंगे। हिंदू बहुल नेपाल में, और मुस्लिम बहुल मलेशिया एवं ब्रूनेई में बौद्ध धर्म दूसरा सबसे बड़ा धर्म है। विश्व में बौद्ध धर्म कितने प्रतिशत है — दुनिया में 130 करोड़ से 180 करोड़ लोग बौद्ध धर्म के अनुयाई हैं; यानी विश्व की 18% से 26% आबादी बौद्ध धर्मावलंबी हैं।

 

चीन के 3 स्वायत्त प्रांत प्रांतों में भी सबसे बड़ी संख्या बौद्धों की ही है।

15. हॉन्ग कॉन्ग (67 – 91% बौद्ध)

16. मकाउ (80% बौद्ध)

17. तिब्बत (80 – 90% बौद्ध)

 

रूस (Russia) के गणराज्य प्रांतों में भी बौद्ध धर्म प्रमुख धर्म है।

18. तूवा (62% बौद्ध)

19. कालमिकिया (48 – 53% बौद्ध)

20. बुर्यातिया (20% बौद्ध)

21. ज़बायकाल्स्की क्राय (15% बौद्ध)

ऑस्ट्रेलिया का क्रिसमस द्वीप (19% – 46%) तथा भारत में लद्दाख (40%-50%) और सिक्किम (27%-30%) में बौद्धों की आबादी काफी ज्यादा है

 

इन 14 बौद्ध देशों में 1 अरब से 1.5 अरब (100 करोड़ से 150 करोड़) बौद्ध लोग रहते हैं। जबकि बचे हुए 10-20 करोड़ बौद्ध लोग दुनिया के अन्य अलग-अलग देशों में बसे हुए हैं। भारत में बौद्ध धर्म कितने प्रतिशत है जहां तक भारत की बात करें तो यहां आधिकारिक तौर पर महज एक करोड़ बौद्ध (1%) है। हालांकि कुछ सर्वेक्षणों में भारत में बौद्ध आबादी को 3%, 5%, 6% और 9% (यानी 5 करोड़ से 10 करोड़) भी बताया गया है। भारत के दलितों की बहुत बड़ी आबादी बौद्ध धर्म को फॉलो करती हैं लेकिन आधिकारिक तौर पर देश के सेन्सस में उनका एक ‘बौद्ध’ के रूप में जिक्र नहीं होता। इसके कारण बहुत सारे हो सकते हैं। यह स्वतंत्र चर्चा का विषय है, जिसे अन्य लेख में लिखा जाएगा।

 

तो अब आप जान गए होगे कि दुनिया में बौद्ध देश कितने हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक विश्व में 10 में से 8 लोग किसी न किसी धर्म को मानने वाले हैं। जबकि बचे हुए लोग किसी भी धर्म को नहीं मानते ऐसे लोगों की आबादी भी बहुत बड़ी है। चीन में बहुत से लोग नास्तिक है जो ईश्वर में आस्था नहीं रखते हैं, बौद्ध लोग भी ईश्वर में आस्था नहीं रखते हैं। इसलिए चीन की आबादी में जो लोग नास्तिक है, वह लोग बौद्ध धर्म के अनुयाई भी होते हैं।

 

अमेरिका के प्यू रिसर्च सेंटर के अनुमान में, चीन के नास्तिक लोगों को निधर्मी (किसी भी धर्म को न मानने वाला) माना गया है, और इसी कारण वहां की बौद्ध धर्म की आबादी को बहुत ही ज्यादा घटाकर बताया गया है। चीन में बौद्ध धर्म की जनसंख्या कितनी है ? – चीन में लोग पारंपरिक चीनी धर्मों के साथ-साथ बौद्ध धम्म का भी अनुसरण करते हैं। चीनी धर्मों में कन्फ्यूशियस, ताओ धर्म और बौद्ध धर्म यह 3 धर्म एकसाथ सम्मिलित हैं, जिनका पालन चीनी लोग एक साथ करते हैं। 14वें दलाई लामा भी बताते हैं कि, चीन में बौद्ध धर्म की आबादी 40 से 70 करोड़ हैं। प्यू रिसर्च सेंटर सर्वेक्षण में, जापान की आबादी में महज 35 फ़ीसदी बौद्ध बताई हैं, जबकि जापान के अधिकारिक सरकारी आंकड़े बताते हैं की देश में करीब 70% लोग बौद्ध धर्म के अनुयाई हैं।

अगर दुनिया की दूसरी या तीसरी सबसे अधिक आबादी वाले धर्म की बात करें तो वह बौद्ध धर्म ही हैं। उम्मीद करते हैं कि इस लेख में आपको काफी कुछ जानने को मिला होगा।


सन्दर्भ

 

‘धम्म भारत’ पर मराठी, हिंदी और अंग्रेजी में लेख लिखे जाते हैं :

 

ये भी पढ़ें —


(धम्म भारत के सभी अपडेट पाने के लिए आप हमें फेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)

5 thoughts on “दुनिया में बौद्ध देश कितने हैं – उनके नाम और सूची

Leave a Reply

Your email address will not be published.